Swapndosh Hoga Shartiya Door, Bas Karne Honge Ye Upay

Swapndosh Hoga Shartiya Door, Bas Karne Honge Ye Upay

स्वप्नदोष होगा शर्तिया दूर, बस करने होंगे ये उपाय

स्वप्नदोष-

अक्सर युवा उम्र में नींद के दौरान पुरूषों में बिना इच्छा के स्खलन हो जाना स्वप्नदोष कहलाता है। स्वप्नदोष को अंग्रेजी में नॉक्टर्नल एमिशन या नाइटफाॅल कहते हैं और यह अधिकतर जवान पुरुषों में पाया जाता है, जोकि स्वाभाविक क्रिया है, न कि कोई चिंता का विषय। कई बार यह 20 साल और 30 साल के उम्र के पुरूषों मे भी होता है, इसलिए इसमें घबराने की कोई बात नहीं। हां, अगर हफ्ते में तीन से चार बार स्वप्नदोष होता है, तो आपको चिकित्सक से मिलना चाहिए।

क्या हैं स्वप्नदोष के कारण?

– हमारे शरीर का दैनिक कार्य है अंडकोष में शुक्राणु और वीर्य पैदा करना और जब एक निश्चित मात्रा में जब अंडकोष में हो जाता है, किन्तु उसका स्खलन नहीं हो पाता, तो ऐसी स्थिति में हमारी बाॅडी और माइंड खुद ही स्खलन का रास्ता खोज लेते हैं। इसी क्रिया में यदि सपने में ऐसे कोई एरॉटिक ड्रीम्स आए तो भी ऑटोनोमस नर्वस सिस्टम में एक्ससाईटमेंट होकर स्वपनदोष हो जाता है।

– कई अन्य कारण हैं Dream Fault हो जाने के। प्रोस्टेट ग्रंथि कमजोर हो जाए, तो भी नाइटफॉल हो सकता है।

बहुत ज्यादा संभोग करने से भी हमारा दिल-दिमाग एक्ससाईटमेंट में ही रहता है और कामुक विचार हमारे दिमाग में लंबे समय तक छाये रहते हैं, जिस कारण ऐसे विचार और सपने से नासों में कमजोरी होने से स्वपनदोष होने की संभावना बनी रहती है।

दवाईयों का सेवन कर रहे हों और इन दवाओं के नकारात्मक प्रभाव हों, तो Dream Fault होता है।

अति मात्रा में अश्लील वीडियो या मूवी देखना, अश्लील साहित्य पढ़ना और हर वक्त सेक्स के बारे में सोचते रहना भी Dream Fault की मुख्य वजह होती है।

समय न मिल पाने के कारण या अन्य किसी भी वजह से वीर्य का बहुत दिनों तक अंडकोष में एकत्रित रहने से भी Dream Fault हो जाता है।

यह आर्टिकल आप swapndosh.co.in पर पढ़ रहे हैं..

स्वप्नदोष से हानि :

अनैच्छिक रूप से वीर्यपात होते रहने यानी नींद में स्खलन की समस्या से शरीर धीरे-धीरे दुर्बल होता जाता है, जिस कारण व्यक्ति अपने दैनिक कार्य सही से नहीं कर पाता।

लगातार Dream Fault की समस्या से मस्तिष्क में आलस घर कर जाता है, जिसकी वजह से व्यक्ति अपने पढ़ाई और घरेलू व आॅफिसियल काम-काज में अपना पूरा ध्यान नहीं केन्द्रित कर पाता या कर ही नहीं पाता।

शारीरिक अंगों में दर्द की शिकायत होने लगती है।

पेट से संबंधित समस्या बनी रहती है। जैसे- कब्ज होना, पाचन ठीक से नहीं होता है।

कभी-कभी Dream Fault के कारण युवाओं में शारीरिक विकास भी रूक जाता है।

बाल झड़ने की समस्या आने लगती है।

नींद भी पर्याप्त मात्रा में नहीं आती है।

स्वप्नदोष का इलाज :

Swapndosh Hoga Shartiya Door, Bas Karne Honge Ye Upay

रात को गर्म दूध पीकर न सोयें।

भोजन करते ही न सोयें। भोजन और नींद के बीच 2-3 घंटे का अंतराल रखें।

ठंडे पानी से स्नान करना भी Dream Fault की समस्या से काफी हद तक निजात दिला सकता है।

सप्ताह में एक बार सेक्स करें। अगर आपके पास पार्टनर न हो, तो ऐसी स्थिति में हस्तमैथुन करें। हफ्ते में एक बार हस्तमैथुन करने से कोई शारीरिक व मानसिक नुकसान नहीं होता। Dream Fault की समस्या के लिए यह एक अच्छा उपाय होगा। इससे अंडकोष में जो वीर्य जमा हो गया है, वो बाहर निकल जायेगा और आपके कपड़े भी खराब नहीं होंगे। सोने से पहले हस्तमैथुन करें, ताकि वीर्य खाली हो जाए और नींद में स्खलन की समस्या होने का प्रश्न ही न उठे।

अगर आप सही रूप से स्वप्नदोष का इलाज चाहते हैं, तो इसके लिए आप अपनी जीवनशैली को थोड़ा बदलें। सुबह जल्दी उठें और जितना हो सके पूरे दिन खुद को व्यस्त रखने की कोशिश करें। अगर रात को सोने तक आप खुद को बीजी यानी व्यस्त रखेंगे, तो और भी सही होगा।

सुबह जल्दी उठकर व्यायाम और योगा करें। Dream Fault की समस्या में यह बहुत कारगर साबित होता है।

अश्लीलता से दूर रहें : नींद में स्खलन की समस्या के इलाज का एक पुख्ता उपाय यह है कि आप पूरी तरह से अश्लीलता और पॉर्न से खुद को दूर रखें। इसमें यदि आप पूरी तरह खो गये या फिर चस्का लग गया तो, आगे चलकर आपके लिए ये बहुत बड़ी समस्या पैदा कर सकती है।

Nightfall Ka Ilaj in Hindi, Nightfall ka desi Ilaj, Nightfall Rokne Ke Upay in Hindi,  Nightfall Treatment in hindi, Nightfall

स्वप्नदोष का आयुर्वेदिक इलाज :

Swapndosh Hoga Shartiya Door, Bas Karne Honge Ye Upay

रोजाना रात्रि को नियमित रूप से सोने से पूर्व त्रिफला चूर्ण का सेवन करें।

शिलाजीत की गोली का सेवन करें। इससे यौनांगों की शक्ति बढ़ेगी और नसों पर प्राकृतिक रूप से नियंत्रण आ जाएगा, जिससे Dream Fault रुक जाता है।

नाईट फाॅल की समस्या में आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी का इस्तेमाल करें। इसमें अश्वगंधा चूर्ण, कवच बीज, शिलाजीत, सफेद मूसली, शतावरी, जायफल, केसर, हरीतकी, पिपली चूर्ण, लोह भस्म, लौंग और कंकज चूर्ण का मिश्रण करके दिन में दो बार खाना खानो के बाद खायें।

अदरक का रस, जायफल पाउडर एक चमच और शहद को नींबू के रस में मिलाकर पियें।उपरोक्त बताये गये आयुर्वेदिक उपाय नाईट फाॅल की समस्या से छुटकारा पाने लिए लाभकारी साबित होंगे। इससे वीर्य गाढ़ा हो जाएगा और जल्दी से स्खलन भी नहीं होगा। मांस-पेशी मजबूत होंगे और नर्वस सिस्टम भी स्ट्राॅन्ग हो जायेगा।

योगा से करें दूर स्वप्नदोष :

योगा से मन शांत और तन दुरूस्त रहता है। नियमित योगा करने से दिमाग और शरीर दोनों पर सही नियंत्रण बना रहता है। दिमाग से शरीर कंट्रोल होता है और नाईट फाॅल की समस्या दूर हो जाती है, इसलिए नाईट फाॅल से मुक्ति पाना चाहते हैं, तो शुरू करें योगा।

पहले तो आपको प्राणायाम करना है। प्राणायाम से प्राण पर कंट्रोल आ जाता है। रोजाना लगभग 15 मिनिट तक प्राणायाम करने से शरीर में ओजस की वृद्धि होती है और सेक्स क्षमता भी मजबूत होती है।

नाईट फाॅल पर पूरी तरह नियंत्रण पाना चाहते हैं, तो अपनी डाइट लिस्ट में सात्विक आहार को शामिल किजिए, क्योंकि नाईट फाॅल में आहार का भी बहुत महत्व होता है। सभी मसालेदार वाले आहार और फ्राइड फूड्स को बख्श दें, जिससे तामसिक असर न हो शरीर पर।

नाईट फाॅल की समस्या से निजात पाने के लिए करें सिद्धासना। इस आसन को करने लिए जमीन पर बैठ जाएं, बाएं पैर की एड़ी को अपने गुदाद्वार और अंडकोष के बीच के भाग पर दबाएं, सर को झुकाएं, जिससे थोथी छाती पर लग जाए और दो आंखों के बीच में ध्यान केंद्रित करें। सिद्धासन का जादुई प्रभाव यौनांगों पर पड़ता है और साथ ही प्राण उर्जा से मूलधारा चक्र सक्रिय होता हैै।

Swapandosh Hoga Shartiya Door, Bas Karne Honge Ye Upay

यहां एक बात और बता दें..  नाईट फाॅल की समस्या केवल पुरुषों को ही नहीं होती, बल्कि स्त्रियों में भी यह समस्या पायी जाती है और इसका पहला लक्षण है अंडरवियर का भीग जाना। स्त्रियां जो काफी समय तक बिना सेक्स के रहती हैं और उन्हें इरोटिक सपने आएं, तो ऐसे में उन्हें भी नाईट फाॅल हो सकता है। स्त्रियों में नाईट फाॅल होना एक नॉर्मल बात है। यह चिंता का विषय नहीं है। अगर स्त्रियों को लगता है या फिर वाकई वह नाईट फाॅल की समस्या से जूझ रहीं हैं, तो ऊपर बताये गये उपायों का अनुसरण कर सकती हैं। यह सभी उपाय स्त्रियों पर भी लागू होते हैं।

सेक्स से संबंधित अन्य जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.. http://chetanonline.com/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *