Swapndosh(Nightfall) Ki Labhkari Ayurvedic Aushadhiya

Swapndosh(Nightfall) Ki Labhkari Ayurvedic Aushadhiya

स्वप्नदोष(नाईट फाॅल) की लाभकारी आयुर्वेदिक औषधियाँ-

नाईट फाॅल किसे कहते हैं?

नींद में कोई उत्तेजक व अश्लील स्वप्न देखने के कारण या फिर स्वप्न में किसी सुंदर स्त्री या लड़की के साथ संभोगयुक्त प्रभाव के कारण वीर्य वस्त्र में ही निष्कासित हो जाता है, जिसे स्वप्नदोष कहते हैं। सरल भाषा में कहा जाये, तो नींद में कामुक स्वप्न देखने के कारण जो वीर्य स्खलन होता है, स्वप्नदोष कहलाता है।

आज की रेलमपेल और व्यस्त जिंदगी में लोगों में खासकर युवा पुरूषों में गलत आदतों व अश्लील विचारों के कारण बुरी आदतों की प्रवृत्तियां बढ़ती जा रही हैं, जिनमें हस्तमैथुन प्रमुख है और इसी कारण से स्वप्नदोष का रोग भी लग जाता है। अगर इसका वक्त रहते उपचार नहीं किया जाता है, तो यह यौन रोग धीरे-धीरे गंभीर रूप लेने लगता है। इन बुरी व अश्लील प्रवृति भरी आदतों के कारण पुरूष कई प्रकार की सेक्स समस्याओं से भी घिर जाता है, जिनमें पुरूषों की मर्दाना शक्ति का कम हो जाना, या फिर समाप्त ही हो जाना प्रमुख है।

आप यह आर्टिकल Swapndosh.co.in पर पढ़ रहे हैं..

स्वप्नदोष और कामशक्ति वर्धक औषधियाँ-

swapndosh.co.in

1. शतावर, असगंध और सफेद मूसली 50-50 ग्राम लें व पीसकर कपड़े में छान लें। फिर उसमें 150 ग्राम मिश्री मिलाकर रख लें। प्रतिदिन सुबह-शाम 10-10 ग्राम दवा दूध के साथ खाने से स्वप्नदोष मिट जाता है।

2. सोते समय 4 ग्रेन कपूर में मिश्री मिलाकर कुछ दिन तक सेवन करने से स्वप्नदोष में लाभ होता है।

3. बनारसी आंवले का मुरब्बा एक नग प्रतिदिन धोकर खाने से भयंकर से भयंकर स्वप्नदोष भी ठीक हो जाता है।

4. 6 ग्राम चिरौंजी को कूटकर आधा किलो गाय के दूध में डालकर पकाएं। जब आधा दूध रह जाये, तब उतार कर रख लें। रात मेें सोते समय केवल तीन दिन तक खाने से स्वप्नदोष नष्ट हो जाता है।

5. एक माशा कपूर और चैथाई रत्ती अफीम मिलाकर सोते समय खाने से स्वप्नदोष नहीं होता है।

6. एक ग्राम बारीक पिसी राल को रात में सोते समय दूध के साथ खाने से शीघ्रपतन दूर होता है।

7. दो रत्ती कपूर और पाव रत्ती अफीम की गोली बनाकर रात को सोते समय गुनगुने पानी के साथ खाने से स्वप्नदोष मिटता है।

8. पाव रत्ती अफीम को आधे लीटर पानी में घोल लें। उस घोल में मुट्ठी भर चने शाम को भिगो दें और सुबह निकाल कर उन्हें गीले कपड़े में बांध दें। अगले दिन अंकुर सहित चबाकर खायें। 21 दिन तक प्रतिदिन खाने से स्वप्नदोष मिटता है।

9. दो माशा हल्दी गरम दूध के साथ प्रतिदिन खाने से स्वप्नदोष मिट जाता है।

Swapndosh(Nightfall) Ki Labhkari Ayurvedic Aushadhiya

10. दो ग्राम मिश्री, एक ग्राम हल्दी, 6 ग्राम शीतलचीनी, एक ग्राम कपूर-भीमसेनी और 2 ग्राम अफीम को मिलाकर चूर्ण बना लें। 2 ग्राम चूर्ण पानी के साथ खाने से स्वप्नदोष में लाभ होता है।

11. हजारा गैंदा के बीज दो या तीन ग्राम में शक्कर मिलाकर खाने से नाईट फाॅल की समस्या समाप्त हो जाती है।

12. इमली के बीज भूनकर बराबर मात्रा में शक्कर मिलाकर रख लें। 6 ग्राम चूर्ण गाय के दूध के साथ लेने से नाईट फाॅल में लाभ होता है।

13. चार ग्राम शीतलचीनी का चूर्ण दिन में दो बार दूध के साथ 20-25 दिन तक खाने से नींद में वीर्यपात नहीं होता है।

14. मिश्री और ईसबगोल की भूसी 3-3 ग्राम कई दिन तक रात में सोते समय खाने से निंद्रा के दौरान वीर्य निष्कासित नहीं होता है।
3 ग्राम सालममिश्री का चूर्ण दूध के साथ लेना स्वप्नदोष में हितकर है।

15. 5 ग्राम असगंध का चूर्ण 50 ग्राम दूध के साथ लेने से नाईट फाॅल मिट जाता है।

16. भोजन के बाद पके हुए 2 केले में 2-4 बूंद शहद मिलाकर खाने से नींद में वीर्यपात की समस्या समाप्त होती है और वीर्य की वृद्धि होती है।

सेक्स समस्या से संबंधित अन्य जानकारी के लिए इस लिंक पर क्लिक करें..http://chetanclinic.com/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *